तस्वीर हो मुखातिब तो बात बन जाये| तस्वीर शायरी, tasveer shayari|mulaqaat shayari

खाली है दिल खयालों मे तेरी आहट
तुम रूबरू हो तो मुलाक़ात बन जाये


मैं लफ़्ज़ों में ढूंढता हूँ तारीफ का जरिया
तस्वीर हो मुखातिब तो बात बन जाये

......

Khali hai dil khayaalon me teri aahat
Tum rubroo ho to mulaqaat ban jaaye
.
.
Main lafzon me dhundta hun tarif ka jariya
Tasveer ho mukhatib to baat ban jaaye

Comments

Popular posts from this blog

कभी चाँद था मिशाल ए खूबसूरती मेरी नज़र मे,shayari on chaand, चाँद शायरी

Sad shayri

Valentine's Day shayri